JaunpurUttar Pradesh

जौनपुर : बास बल्लियों से बने पुल के सहारे आने जाने को मजबूर गाँव वाले ।

0 0
Read Time:2 Minute, 6 Second

जौनपुर। बारिश के मौसम में एक दर्जन से अधिक गांव के लोग अपनी जान की बाजी लगाकर घर से निकलने पर मजबूर हो गये है। पुरूषो, महिलाओ के साथ साथ नन्हे मुन्ने बच्चो की भी जान शासत में है। इस तरफ न तो ध्यान चुनावो में वोट मांगने वाले सांसदो, विधायको का है न ही जिले के आला अफसरो का है। मजबूरी में इन गांवो के लोग नाव के साहरे गोमती नदी पार करके बास बल्लियों से बने पुल के सहारे नाले को पार करके आने जाने को मजबूर है।जौनपुर-कही-मौत-का-पुल-न-बन-जाय-बास.jpg

नगर से सटे गोमती नदी के किनारे बसा प्यारेपुर गांव तथा नदी के उस पार सुल्तानपुर कोहड़े गांव है। इन दोनो गांव के बीच एक बड़ा नाला भी बहता है। दहीरपुर नाले के नाम से मसहूर यह नाला बारिश के मौसम में विकराल रूप ले लेता है। इस नाले पर पक्का पुल न होने के कारण ग्रामीणो ने बास बल्लियों का पुल बनाकर इस पार से उस पार आते जाते है। उधर गोमती को पार करने के लिए तार के सहारे चलायी जा रही नाव से अपना सफर तय कर रहे है।

ग्रामीणों यह सफर काफी खतरनाक है। लेकिन मजबूरी लोग अपना जान जोखिम में डालकर आते जाते है। इन गांवो के लोगो ने अपनी मजबूरी बताते हुए सरकार से मांग किया कि नाले पर पुल बनाया जाय। इस पुल को पार करके स्कूल आने जाने वाले नन्हे मुन्ने बच्चो ने शासन प्रशासन से मांग किया कि जल्द से जल्द पुल का निर्माण कराया जाय जिससे हम लोग बेखौफ होकर पढ़ाई लिखाई कर सके।

खबरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें :-7800292090

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Articles

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button