JaunpurUttar Pradesh

जौनपुर : यूपी में कानून व्यवस्था ध्वस्त : अरविन्द कुमार पटेल ।

0 0
Read Time:3 Minute, 45 Second

जौनपुर। जिले में सरदार ने जिला मुख्यालय पर प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया । इस दौरान जिलाध्यक्ष अरविन्द कुमार पटेल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बढ़ते जंगलराज के खिलाफ प्रदेश में फैले अराजकता व अपराध को देखते हुए .राज्यपाल को संबोधित प्रदेश व्यापी ज्ञापन सौंपा गया है।

ज्ञापन के माध्यम से हाल ही में हुए हत्या,बलात्कार जैसी घटनाओं को संज्ञान दिलाते हुए न्याय हेतु गुहार लगाई। जिसमें हाल ही में जनपद चंदौली में पवन यादव और विनय यादव पर गोली चलाई गयी,आगरा के पिनहट गांव में पिछड़ा वर्ग के मौर्य समाज की बेटी के साथ 14 मई को 4 दबंगों द्वारा दुष्कर्म किया गया ।

खबरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें :-7800292090

जिसमें बीजेपी के पूर्व विधायक अरिमर्दन सिंह और विधायक पक्षालिका सिंह मामले की लिपा-पोती में संलिप्त पाई गयी। इसी तरह की घटना ललितपुर में 15 वर्ष की बेटी के साथ दबंगों ने बलात्कार किया तदोपरांत मारा गया तथा बेटी की इलाज के दौरान मौत हो गयी।

बीते दिनों में संभल जिले में जितेन्द्र शर्मा और शरमेन्द्र शर्मा नामक दबंगों द्वारा दलित प्रधान पति और उनके पुत्र को गोली मार कर हत्या कर दिया गया।इसी प्रकार की घटना 22 मई को होती है।

बता दें कि प्रतापगढ़ जनपद के ग्राम सभा गोविन्दपुर में शुक्रवार को दो पक्षों ब्राम्हण समुदाय व पटेल समुदाय में मामूली बात को लेकर हुआ विवाद विकट रूप ले लिया। बताते चले कि शुक्रवार की सुबह घुई के प्रधान पक्ष के लोगों द्वारा किसान हरिकेश वर्मा के खेत में घुमने वाले सांड़ों को छोड़ दिया गया।

इस पर हरिकेश वर्मा ने विरोध किया तो घुई प्रधान पक्ष के लोगों गोविन्दपुर बस्ती में दर्जनों की संख्या में इकठ्ठा होकर बस्ती में लूट-पाट के साथ ही बाइक, बोलेरो और गुलाब वर्मा की छोटी ट्रक और ट्रैक्टर के साथ कई घरों को आग के हवाले कर दिया चूंकि किसानों के कच्चे मकान होने के कारण मकान पूरी तरह जलकर खाक हो गया तथा इस आगजनी में तीन बेजुबान जानवरों को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ा।

मांग किया कि आरोपियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करके सजा दिया जाय, ताकि इस तरह की घटना दुबारा न दुहराई जाय सके,प्रदेश में अराजकता के जगह कानून राज स्थापित किया जाय। घटना की जांच हेतु इमानदारी पूर्वक जिला बाहर से मजिस्ट्रियल कमेटी बनाई जाय। पीड़ित पटेल परिवार को एक -एक करोड़ रूपया और एक सरकारी नौकरी मुहैया कराया जाय। प्रत्येक पटेल परिवारों को सुरक्षा हेतु शस्त्र लाइसेंस निर्गत किया जाय।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Articles

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button