JaunpurUttar Pradesh

#Jaunpur | जौनपुर की संक्रमित स्थिति को देखते हुये ग्रीन जोन में रखने की उठी आवाज

0 0
Read Time:4 Minute, 52 Second

जौनपुर। वर्तमान की महामारी को लेकर लागू लॉक डाउन के निरन्तर बढ़ने से अब तमाम प्रश्न उठने शुरू हो गये हैं। वहीं पूरे देश को 3 जोन में विभाजन करके कहीं कुछ नहीं, कहीं कुछ तो कहीं बहुत कुछ व्यवस्था दिये जाने को लेकर भी चर्चाओं का बाजार शुरू हो गया है। इसी को लेकर जनपदवासियों ने मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराते हुये कहा कि जनपद से कोई भी स्थानीय कम्युनिटी का कोई मरीज अभी तक नहीं मिला है।


जनपद में पहला मरीज बीते 22 मार्च को शहर के फिरोशेपुर मोहल्ले में सऊदी से आया हुआ युवक मोहम्मद अशहद में करोना पॉजिटिव पाया गया था। 17 दिनों तक अस्पताल में चले उपचार के बाद बीते 6 अप्रैल को उसको अस्पताल से घर भेज दिया गया। बीते 31 मार्च को 14 बांग्लादेशी समेत दो भारतीय नागरिक तबलीगी जमात के पकड़े गये थे जिनके नमूनों की जांच में 1 बांग्लादेशी सहित दो लोगों में बीते 2 अप्रैल को संक्रमण की पुष्टि पायी गयी। उन सभी का उपचार हुआ जिससे वे सभी ठीक हो गयी।

इसी क्रम में बदलापुर तहसील क्षेत्र का लगभग 21 वर्षीय युवक शाने आलम जो सहारनपुर के देवबंद मदरसे का छात्र है, बीते 28 मार्च को घर आया था। उसके के साथ आये वाराणसी के दो युवकों में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद 5 अप्रैल को उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराते हुये जांच हुई। 8 अप्रैल को उसका नमूना कोरोना पॉजिटिव पाया गया जिसका भी उपचार हुआ। 5वां मरीज बदलापुर तहसील मंें 15 दिन पहले दिल्ली से लौटा युवक मिला जो दिल्ली में तबलीगी जमात में शामिल होकर बदलापुर में 29 मार्च को 6 अन्य के साथ मदरसे से पकड़ा गया था। उसे क्वारेंटाइन में रखा गया था जिसका नमूना लेकर जांच हेतु 13 अप्रैल को पुनः भेजा गया था। जांच में वह वायरस से संक्रमित पाया गया।

खबरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें :-7800292090

28 अप्रैल को तीन कोरोना पॉजिटिव मरीज पाये गये जिनमें से दो बदलापुर क्षेत्र के करनपुर गांव निवासी हैं जो 7 अन्य के साथ मुम्बई से गांव के ही निवासी एक व्यक्ति के ट्रक पर सवार होकर बीते 24 अप्रैल को यहां पहुंचा था। पहले से जानकारी होने पर ग्राम प्रधान की सूचना पर पुलिस ने नगर के इंदिरा चौक पर ही ट्रक को रोक लिया जहां थर्मल स्कैनिंग में तापमान अधिक होने से सभी का नमूना लेकर जांच हेतु भेजने के बाद सल्तनत बहादुर इण्टर कालेज में स्थित रैन बसेरा क्वारेंटाइन में रखा गया।

बीते मंगलवार को बीएचयू से रिपोर्ट में दो कोरोना संक्रमित मिले तथा उधर जलालपुर क्षेत्र के ओईना निवासी एक युवक जो वाराणसी में रहकर सिलाई का काम करता है, बीते 18 अप्रैल को घर लौटा। आशा की सूचना पर स्वास्थ्य टीम ने 23 अप्रैल को जांच के बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नेहरू नगर में क्वारेंटाइन किया। मंगलवार को उसकी भी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। उपरोक्त सभी 8 मरीजों का उपचार वाराणसी स्थित सर सुन्दर लाल हास्पिटल में हुआ जिनमें से 5 स्वस्थ होकर क्वारेंटाइन में हैं जबकि तत्काल मिले संक्रमितों का उपचार चल रहा है।

कुल मिलाकर शुरू से लेकर 2 मई तक जनपद का कोई व्यक्ति संक्रमित नहीं हुआ है। जो भी हुये हैं, वे सब दूर-दराज से यहां आने वाले लोग ही हैं। ऐसे में जनपद को ग्रीन जोन में रखा जाय, ताकि इस जोन की श्रेणी में मिलने वाली सुविधाओं का यहां रह रहे लोग लाभ उठा सके।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Articles

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button