JaunpurUttar Pradesh

जौनपुर : पांच दिवसीय आईसीटी कार्यशाला का हुआ समापन !

0 0
Read Time:5 Minute, 18 Second

जौनपुर।  परिषदीय विद्यालयों के लिए मिशन शिक्षण संवाद समूह  द्वारा  संचालित पाँच दिवसीय आई .सी.टी. कार्यशाला का आज समापन हुआ। कार्यशाला के मुख्य अतिथि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  प्रवीण कुमार तिवारी  ने कहा कि बेसिक शिक्षा में आईसीटी का प्रयोग आज के युग की महती आवश्यकता है।

इसके लिए शिक्षकों को विषयगत ज्ञान के साथ – साथ तकनीकी ज्ञान से भी परिपूर्ण होना आवश्यक है ।उन्होनें शिक्षकों को शिक्षा में आई. सी. टी. के प्रयोग को बढ़ावा देने और उन्हें तकनीकी ज्ञान से प्रशिक्षित करने हेतु आई. सी. टी. कार्यशाला की संयोजिका और इंगलिश मीडियम प्रा. वि. चकताली, सिरकोनी, जौनपुर की प्रधानाध्यापिका डॉ. ऊषा सिंह  सहित जनपद  के मिशन शिक्षण संवाद समूह की पूरी टीम का उत्साहवर्धन करते हुये उन्हें भविष्य में भी इस तरह की शैक्षिक एवं तकनीकी कार्यशालाओं को आयोजित करने और उसे सफल बनाने के लिए अपना साधुवाद दिया।जौनपुर-पांच-दिवसीय-आईसीटी-कार्यशाला-का-हुआ-समापन-SRJ.jpg

कार्यशाला की संयोजिका डॉ. उषा सिंह ने बताया कि आये दिन शिक्षकों को शासन के निर्देशों के अनुपालन में अनेक प्रकार के प्रपत्र तैयार करने पड़ते हैं और उन्हें साइबर कैफे के चक्कर लगाने पड़ते हैं ।इसके लिये जनपद के शिक्षकों को इस तरह की आई. सी. टी. कार्यशाला की अत्यन्त आवश्यकता थी जिसके लिये इस कार्यशाला का आयोजन किया गया ।

खबरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें :-7800292090

इस कार्यशाला के माध्यम से जनपद के शिक्षकों की विभिन्न तकनीकी समस्याओं के समाधान के लिए कई आई. सी. टी. विशेषज्ञों /शिक्षकों का सहयोग लेते हुए मोबाइल के प्रयोग द्वारा बेहतरीन प्रशिक्षण प्रदान करने की कोशिश की गई ।प्रशिक्षकों ने प्रतिभाग कर रहे शिक्षकों को आवश्यक ऐप्स की जानकारी, गूगल फार्म बनाना, पिक्सेल एेप के द्वारा बच्चों के आई .डी.कार्ड, प्रवेश फार्म, नाम पता सहित संख्या सूची, वर्कशीट, पोस्टर,आदि बनाने के साथ ही मोबाइल के माध्यम से एमएस वर्ड, एक्शेल शीट द्वारा विभिन्न प्रकार के टेबल तैयार करना, एडिटिंग करना, डाटा फिलिंग, मिड- डे-मील कनवर्जन शीट,क्विज वर्क शीट आदि तैयार करना सिखाया ।

इसके साथ ही काइन मास्टर ऐप पर फोटो से वीडियो एडिटिंग, इमेज बैकग्राउंड सेटिंग के साथ – साथ अपनी आवाज का प्रस्तुतीकरण करने का भी प्रशिक्षण दिया गया । प्रतिदिन की कार्यशाला में प्रशिक्षण के साथ ही प्रतिभाग कर रहे शिक्षकों को आनलाइन प्रैक्टिकल करने के लिए भी प्रोत्साहित किया गया और उनके प्रश्नों का उचित निराकरण करते हुए उनकी विषयगत कठिनाइयों का समाधान भी किया गया ।

कार्यशाला में मिशन शिक्षण संवाद उ. प्र. समूह के संस्थापक आदरणीय विमल कुमार सर के साथ – साथ वीरेन्द्र प्रणामी सर ,शिवम सिंह ,मुनीश जी, शशिभूषण त्रिपाठी, ग्यानेश्वर प्रसाद, राजीव कुमार,डॉ.आशीष श्रीवास्तव, रूपम सक्सेना, शिप्रा सिंह, डॉ. मधूलिका अस्थाना, डॉ. निशा सिंह आदि ने कार्यशाला में प्रशिक्षण और संचालन में सहयोग प्रदान किया ।प्रतिभाग कर रहे शिक्षक – शिक्षिकाओं में अमित सिंह, अनुराग मिश्र, लालबहादुर यादव, अखिलेश मिश्र, अनिल कुमार, प्रसून मिश्र, अतुल सिंह, रईस खान, प्रद्युम्न पाण्डेय, रीतिका सिंह, वन्दना यादव,सुजाता सिंह, रिचा सिंह, सरिता महेन्द्र सिंह, निशा सिंह, लीना मैरी, फर्ज अजीज, डॉ. कुमुदिनी अस्थाना, डॉ. गायत्री मौर्या, प्रीती श्रीवास्तव, विजयलक्ष्मी यादव, प्रियंका मिश्रा, नीतू भास्कर, संयुक्ता सिंह, कादम्बरी कुशवाहा आदि सहित गैर जनपद के अनेक शिक्षक – शिक्षिकाओं ने कार्यशाला में प्रशिक्षण प्राप्त किया ।

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Articles

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button