CrimeJaunpurUttar Pradesh

जौनपुर : सर्राफ़ा कारोबारी हत्याकांड में मुकदमा हुआ दर्ज,आईजी ने किया मुआयना ।

0 0
Read Time:5 Minute, 34 Second

जौनपुर । नेवढि़या थाना क्षेत्र के नेवादा गांव में शुक्रवार की देरशाम सराफा कारोबारी की हत्या व लूट की सनसनीखेज वारदात कहीं एक दशक पूर्व उसके बड़े भाई के साथ हुई घटना से तो नहीं जुड़ी है।

मौके से आभूषणों से भरे एक बैग का मिलना इसी आशंका को बल दे रहा है। तब उसके भाई को लूटने का प्रयास करने वाले दो बदमाशों को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया था। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस हत्या व लूट का मुकदमा दर्ज कर छानबीन में जुटी है। शनिवार को वाराणसी जोन के आइजी विजय सिंह मीणा ने घटनास्थल का मुआयना कर जल्द खुलासा करने का मातहतों को निर्देश दिया।

जलालपुर थाना के कुसियां गांव निवासी शिवजीत मौर्य (32) नेवढि़या इलाके के परमलपट्टी बाजार में सराफा की दुकान चलाते थे। शुक्रवार की देरशाम दुकान बंद कर बाइक से घर लौटते समय शिवजीत मौर्य की पल्सर बाइक सवार तीन बदमाशों ने गोलियों से छलनी कर हत्या कर दी। उनके पास मौजूद एक बैग लेकर भाग गए।

खबरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें :-7800292090

जिसमें दुकान की चाबियों के अलावा और क्या था, यह किसी को नहीं पता। दूसरा बैग मौके पर ही मिल गया जिसमें लाखों रुपये मूल्य के आभूषण थे। मृतक के बड़े भाई रामजीत मौर्य की तहरीर पर देररात एक लाख के आभूषण व नकद 20 हजार रुपये की लूट व हत्या का मुकदमा पुलिस ने दर्ज किया।

वारदात के बाद से ही सीओ मड़ियाहूं विजय सिंह के नेतृत्व में कई पुलिस टीमों के लगातार भागदौड़ के बाद भी कोई सफलता नहीं मिल सकी है। लुटेरों का आभूषणों से भरा बैग मौके पर छोड़ जाना भी इस कयास को मजबूती दे रहा है कि कहीं शिवजीत की हत्या 15 मई 2010 को उसके बड़े भाई श्यामजीत के साथ हुई वारदात की वजह तो नहीं बनी।

जिस जगह शिवजीत की हत्या हुई उससे करीब पांच सौ मीटर की दूरी पर श्यामजीत पर बाइक सवार दो बदमाशों ने हमलाकर आभूषण लूटने का प्रयास किया था। ग्रामीणों ने घेराबंदी कर दोनों बदमाशों को पकड़कर बुरी तरह से पिटाई की जिससे एक की मौके पर जबकि दूसरे की अस्पताल में मौत हो गई थी। मृत बदमाशों की पहचान शेरअली उर्फ निसार निवासी कोटवां थाना लोहता वाराणसी व राजू मोदनवाल निवासी मेंहदीतला केराकत के रूप में हुई थी। पुलिस इस पहलू को भी ध्यान में रखते हुए छानबीन कर रही है।

नेवादा में जल्द बनेगा पुलिस बूथ: आइजी

वाराणसी जोन के पुलिस महानिरीक्षक विजय सिंह मीणा ने शनिवार को घटनास्थल का निरीक्षण किया। मृत सराफा कारोबारी के स्वजनों को आश्वासन दिया कि पुलिस जल्द ही वारदात में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लेगी।

उन्होंने कहा कि नेवादा में जल्द ही पुलिस बूथ बनाया जाएगा। वहां चौबीसों घंटे पुलिस जवान तैनात रहेंगे। नेवढि़या थाने से नेवादा की दूरी 16 किमी जबकि जलालपुर से आठ किमी है। इस मौके पर एसपी अशोक कुमार भी मौजूद रहे।

शोक में बंद रहा कुसियां बाजार

सराफा व्यवसायी शिवजीत मौर्य की हत्या व लूट के शोक में शनिवार को कुसियां बाजार पूरी तरह बंद रहा। कुसियां गांव में भी मातम का माहौल रहा। गांव में पसरा सन्नाटा टूटता रहा तो रह-रहकर मृतक की पत्नी पूजा व मां प्रेमा देवी के करुण क्रंदन से। पिता बड़े लाल मौर्य का करीब तीन साल पहले बीमारी के चलते निधन हो चुका है।

तीन साल की बेटी अंशिका और आठ महीने की दुधमुंही बेटी को इस बात से अनजान है कि उनके सिर से पिता का साया छिन चुका है। मृत शिवजीत तीन भाइयों में सबसे छोटा था। बड़े भाई रामजीत ने बताया कि शुक्रवार की सुबह शिवजीत जौनपुर से आभूषणों की खरीदारी कर घर लौटा फिर भोजन करने के बाद दुकान पर चला गया था। शाम को उसने जीजा सुनील से फोन पर बात की थी। तीनों भाइयों की मौर्या ज्वेलर्स के नाम से क्रमश: परमल पट्टी, नेवादा व कुसियां में दुकानें हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Articles

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button